34वें राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में बंधु तिर्की को एसीबी ने किया गिरफ्तार

झारखंड / राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की को एसीबी ने किया गिरफ्तार

रांची. 4 सितंबर झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) के केंद्रीय महासचिव व
झारखंड के पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की को एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी)
ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। बंधु तिर्की की गिरफ्तारी 34वें
राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में हुई है।
राज्य सरकार ने 24 अगस्त को राष्ट्रीय खेल घोटाले में तत्कालीन खेल
मंत्री बंधु तिर्की, राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष
आरके आनंद सहित पांच आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति एसीबी को
दी थी। राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में यह तिसरी गिरफ्तारी है। इसके
पूर्व एसएम हाशमी और पीसी मिश्रा को गिरफ्तार किया गया था। एक अन्य आरोपी
मधुकांत पाठक ने कोर्ट में सरेंडर किया था।
राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में बंधु तिर्की ने गिरफ्तारी से बचने के लिए
हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। मगर हाईकोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत
याचिका खारिज कर दी थी। इससे पहले निचली अदालत ने भी उनकी अग्रिम जमानत
याचिका खारिज कर दी थी। इसके बाद एसीबी ने कार्रवाई करते हुए बंधु तिर्की
को गिरफ्तार किया। राष्ट्रीय खेल घोटाले की जांच एसीबी कर रहा है। इस
मामले में एसीबी ने बंधु तिर्की, राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के अध्यक्ष
आरके आनंद एवं अन्य पदाधिकारियों पर प्राथमिकी दर्ज की है।

क्या है पूरा मामला
झारखंड में वर्ष 2007 में राष्ट्रीय खेल का आयोजन होना था। मगर तैयारी
पूरी नहीं होने की वजह से 34वें राष्ट्रीय खेल का आयोजन वर्ष 2011 में
हुआ। जिसमें खेल सामग्री की खरीद, ठेका देने में अनियमितता और निर्माण
में गड़बड़ी के कई मामले सामने आए थे। सरकार को 29 करोड़ रूपए से ज्यादा
का नुकसान हुआ था। इसके बाद वर्ष 2010 में एसीबी ने इस संबंध में एफआईआर
दर्ज की थी।

chamaktaaina

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *